खुद बनाएं यूनिवर्सल अकाउंट नंबर, ईपीएफओ सदस्यों के लिए नई सेवा शुरू

0
20

नई दिल्ली। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने अपने सदस्यों के लिए नई सेवा शुरू की है। इसके तहत कोई भी अपना यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) जनरेट कर सकता है। हालांकि, इसके लिए मोबाइल नंबर का आधार से लिंक होना जरूरी है। 

इसके बिना यूएएन जनरेट नहीं किया जा सकेगा। गौरतलब है कि पीएफ निकालने, पीएफ ट्रांसफर करने से लेकर अन्य कामों के लिए यूएएन अनिवार्य है। नई नौकरी मिलने पर अब खुद कंपनी को ये नंबर दे सकते हैं और पीएफ अकाउंट उस कंपनी में ट्रांसफर हो जाएगा।

कैसे बनाएं यूएएन
सबसे पहले आप https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ लिंक के जरिए ईपीएफओ के मेंबर पोर्टल पर जाएं। यहां पर डायरेक्ट यूएएन अलॉटमेंट पर क्लिक करें। क्लिक करने पर जो स्क्रीन सामने आएगी, उसमें आपको आधार नंबर डालना होगा। इसके बाद जनरेट ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) पर क्लिक करें।

ओटीपी आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा। ओटीपी लिखने के बाद और डिस्क्लेमर एक्सेप्ट करने पर आपको सबमिट बटन दिखेगा। फिर सबमिट बटन पर क्लिक करें। इससे आपके आधार की डिटेल स्क्रीन पर दिखाई देगी, जैसे आपका नाम, पिता का नाम और डेट ऑफ बर्थ।

यह डेटा वेरिफाई कर स्क्रीन पर मांगी गई दूसरी डिटेल दे सकते हैं। इसके बाद रजिस्टर बटन पर क्लिक करें। रजिस्टर बटन पर क्लिक करने के साथ ही आपको यूएएन अलॉट हो जाएगा। इसका संदेश स्क्रीन पर दिखाई देगा।

यूएएन है जरूरी
सेंट्रल बोर्ड आफ ट्रस्टी और ईपीएफओ के सदस्य ए. जग्दीश्वर राव का कहना है कि मौजूदा वक्त में पीएफ से जुड़े सारे कामों के लिए यूएएन जरूरी है। अभी सिर्फ कंपनी या दफ्तर ही अपने कर्मचारी का यूएएन जनरेट कर सकता है।

कंपनियों की मुश्किलों को ध्यान में रखते हुए ईपीएफओ ने यूनिफाइड पोर्टल पर डायरेक्ट यूएएन अलॉट करने की सुविधा दी है। अब कर्मचारी को यूएएन जनरेट कराने के लिए कंपनी के पास नहीं जाना होगा।