दूसरी तिमाही में टाटा पावर के मुनाफे में गिरावट

0
11

नई दिल्ली । पिछली 30 सितंबर को समाप्त हुई तिमाही में टाटा पावर का कंसोलिडेटेड शुद्ध मुनाफा 45 फीसद गिरकर 234.16 करोड़ रुपये रहा।

कंपनी ने बताया कि निदेशक बोर्ड ने कंपनी को प्राइवेट प्लेसमेंट के आधार पर एक अथवा अधिक किस्तों में 3,500 करोड़ रुपये के नॉन-कन्वर्टिबल डिबेंचर जारी करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।

कंपनी ने कहा है कि समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी का अक्षय ऊर्जा कारोबार का मुनाफा दोगुना से अधिक बढ़कर 173 करोड़ रुपए हो गया। एक साल पहले इसी अवधि में यह 86 करोड़ रुपए था।

टाइटन का लाभ 67 फीसद उछला: चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में टाइटन कंपनी लिमिटेड का कंसोलिडेटेड शुद्ध मुनाफा 67.44 फीसद उछलकर 277.93 करोड़ रुपये रहा।

पिछले साल इसी अवधि में कंपनी का मुनाफा 165.98 करोड़ रुपये रहा था। समीक्षाधीन अवधि में कंपनी की कुल आय 3,517.7 करोड़ रुपये रही थी।

एक साल पहले के 2,714.98 करोड़ रुपये की तुलना में इसमें 29.56 फीसद की वृद्धि हुई। बीती तिमाही में घड़ियों से कंपनी का राजस्व 8.96 फीसद बढ़कर 571.75 करोड़ रुपये रहा। वहीं आभूषण कारोबार 36.90 फीसद बढ़कर 2,748.2 करोड़ रुपये रहा।

यूको बैंक को 623 करोड़ का घाटा: सार्वजनिक क्षेत्र के यूको बैंक को बीती तिमाही में 622.56 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में बैंक को 384.83 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।

समीक्षाधीन अवधि में बैंक की आय भी पिछले साल के 4,941.41 करोड़ रुपये के मुकाबले में घटकर 3,757.51 करोड़ रुपये रही। बीती तिमाही में फंसे कर्जो (एनपीए) के लिए बैंक का प्रावधान पिछले साल के 980.03 करोड़ से बढ़कर 1,323.36 करोड़ रुपये हो गया। एनपीए का स्तर भी पिछले साल के 8.83 फीसद से बढ़कर 9.98 फीसद हो गया।

पीएफसी लाभ हुआ 1887 करोड़: दूसरी तिमाही में पावर फाइनेंस कंपनी (पीएफसी) का शुद्ध मुनाफा 1,886.59 करोड़ रुपये रहा। पिछले साल के 1,873.42 करोड़ रुपये की तुलना में इसमें 0.7 फीसद की मामूली वृद्धि हुई। इस दौरान कंपनी की कुल आय 7,108.57 करोड़ रुपये रही।

तिमाही नतीजों के साथ ही कंपनी के बोर्ड ने 10 रुपये की फेस वैल्यू वाले शेयर पर छह रुपये प्रति शेयर की दर से अंतरिम लाभांश को भी मंजूरी दी है। लाभांश का भुगतान दो दिसंबर, 2017 या उससे पहले किया जाएगा। लाभांश की राशि 1,584.05 करोड़ रुपये रहेगी।