ईपीएफ पर मिलेगा कितना ब्याज नंवबर में होगा फैसला

0
19

नई दिल्ली । रिटायरमेंट फंड बॉडी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के ट्रस्टी की एक अहम मीटिंग नवंबर में होने वाली है। इस बैठक में यह फैसला लिया जाना है कि इस वित्त वर्ष के लिए ईपीएफ जमा पर कितना ब्याज दिया जाएगा।

एक अधिकारिक सूत्र ने बताया, “कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) और श्रम मंत्री संतोष गंगवार की अध्यक्षता वाली ट्रस्टी के केंद्रीय बोर्ड की बैठक नवंबर में होनी है।”

मौजूदा समय म ईपीएफओ के 50 मिलियन सब्सक्राइबर्स हैं। आधिकारिक सूत्र के अनुसार वित्त वर्ष 2017-18 के लिए भविष्य निधि जमाराशियों पर ब्याज दर को ट्रस्टियों के समक्ष अनुमोदन के लिए पेश किए जाने की संभावना है।

आपको बता दें कि बीते साल दिसंबर में सीबीटी ने ईपीएफ पर मिलने वाली ब्याज दरों को कम कर 8.65 फीसद करने का फैसला किया था, जो कि वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान 8.8 फीसद रही थी। सूत्रों के मुताबिक 1 नवंबर को सीबीटी के एग्जीसक्यूसटिव बोर्ड की मीटिंग श्रम मंत्रालय में होगी।

इस मीटिंग में इस बात की समीक्षा की जाएगी कि ईपीएफओ के निवेश पर कितना रिटर्न मिला है और इसके आधार पर ईपीएफ पर कितना ब्या्ज दिया जा सकता है। एग्जीफक्यूंवि मीटिंग की सिफारिशों पर सीबीटी की बैठक में विचार किया जाएगा।

एक बार वित्त मंत्रालय सीबीटी की ओर से अनुमोदित ब्याज दर की पुष्टि करता है, तो उस वित्त वर्ष के लिए इसे ईपीएफओ सदस्यों के खाते में जमा कर दिया जाता है।

पीपीएफ जैसी विभिन्न बचत योजनाओं पर रिटर्न कम करने के मद्देनजर वित्त मंत्रालय ने श्रम मंत्रालय से ईपीएफ की ब्याज दर को तर्कसंगत बनाने के लिए कहा है।