होंडा की सेल्फ बैलेंसिंग बाइक दिल जीत लेगी युवाओं का

0
79

नई दिल्ली।  सड़कों पर तेजी से बढ़ती वाहनों की भीड़ में मोटर साइकिल को सबसे सकुशल परिवहन माना जाता है। लेकिन इसकी एक समस्या पर हमारा ध्यान बहुत कम बार जाता है। दरअसल मोटरसाइकिल को धीमी गति में मोड़ना सबसे कठिन काम है।वहीं, जापान की ऑटोमाबाइल निर्माता कंपनी होंडा ने इस समस्या का हल खोज निकाला है।

होंडा की इस ‘सेल्फ बैलेंसिंग बाइक’ को इसी साल लास वेगास में आयोजित ‘कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक शो’ (सीईएस) में प्रस्तुत किया गया था। इस बाइक की खासियत है कि यह किसी भी दिशा में आसानी से रुख कर सकती है। बाइक चलाते वक्त आपने महसूस किया होगा कि मोटरसाइकिल को दाईं या बाईं तरफ मोड़ते वक्त पर्याप्त शारीरिक श्रम और सटीक बैलेंस की आवश्यक्ता होती है।

बैलेंस जरा सा डगमगाते ही आप हादसे का शिकार हो सकते हैं। लेकिन सेल्फ बैलेसिंग बाइक ‘इल्क्ट्रॉनिक स्टेयरिंग सिस्टम’ दिया गया है, जो इसे किसी भी दिशा में आसानी से मुड़ने के लिए सक्षम बनाता इस शानदार बाइक में ऑटोमेटिक ब्रेक सिस्टम को भी जोड़ा गया है।

दरअसल बाइक में मौजूद ‘इल्क्ट्रॉनिक स्टेयरिंग सिस्टम’ को मोटरसाइकिल के अगले टायर (व्हील) से जोड़ा गया है, जो ऑटोमेटिक ब्रेक सिस्टम पर आधारित है।

इससे मोड़ पर बाइक टर्न करते वक्त यदि अचानक कोई व्यक्ति, वाहन या गड्ढा रास्ते में आ जाता है तो यह इसमें मौजूद ऑटोमेटिक ब्रेक एक्टिव हो जाते हैं और बाइक आसानी से थम जाती है।

इतना ही नहीं, ब्रेक लगने पर चालक को मजबूत झटकों का सामना भी नहीं करना पड़ता। सेल्फ बैलेंसिंग बाइक का स्टेयरिंग सिस्टम प्रमुख सेंसर से लैस है, जिसकी मदद से यह धीमी गति में भी हर तर्फ रुख कर सकती है।

बेहद आरामदायक है बाइक
होंड की इस शानदार बाइक डिजाइन बेहद आकर्षक है। चालक के लिए हर तरह के कंफर्ट को ध्यान में रखकर इस बाइक को डिजाइन किया है। बाइक की सीट इतने नीच है कि कम कद वाले चालक भी जमीन पर पैर टिकाकर इसे आसानी से कंट्रोल कर सकते हैं। इसके अलावा बाइक के चौड़े टायर पथरीले रास्तों पर जमकर चलने में सक्षम हैं।

नौसिखिए भी होंडा की इस बाइक को बहुत आसानी से कंट्रोल कर सकते हैं। हालांकि कि कंपनी ने अभी इसके बाकि फीचर्स के बारे में कोई खुलासा नहीं किया है। ऐसा माना जा रहा है कि 27 अक्टूबर को होने वाले टोक्यो मोटर शो में कंपनी कीमत और खास फीचर के बारे में खुलासा कर सकती है।