समर्थन मूल्य पर मूंग, उडद एवं सोयाबीन की खरीद शुरू

0
109

जयपुर। प्रदेश में समर्थन मूल्य पर मूंग, उडद एवं सोयाबीन की खरीद प्रक्रिया आज से प्रारम्भ हो गई है। मूंगफली की समर्थन मूल्य पर खरीद प्रक्रिया अक्टूबर माह के द्वितीय पखवाड़े में शुरू की जाएगी। किसानों को गाढ़े पसीने से उपजी कृषि उपज को बेचने में किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े इसके लिए किसानों के लिए ऑनलाईन पंजीयन की व्यवस्था की है।

किसान अपनी उपज बेचने के लिए ई-मित्र या खरीद केन्द्र (संबंधित केवीएसएस) पर भामाशाह कार्ड एवं खसरा गिरदावरी के द्वारा पंजीयन करवा सकता है। यह जानकारी राजफैड की प्रबंध निदेशक डॉ. वीना प्रधान ने सोमवार को दी। डॉ. प्रधान ने बताया कि किसानों में ऑनलाईन पंजीयन के लिए भारी उत्साह है।

पहले दिन 345 किसानों ने अपनी कृषि उपज को बेचने के लिए पंजीयन करवाया है। उन्होंने बताया कि ई-मित्र पर पंजीयन करवाने के लिए किसान को 21 रुपये तथा क्रय केन्द्र पर पंजीयन करवाने पर मात्र 10 रुपये देने होंगे। उन्होंने बताया कि यदि किसी किसान के पास भामाशाह कार्ड नहीं है तो उसे परेशान होने की आवश्यकता नहीं है।

ऑनलाईन पंजीयन के लिए किसान उसी समय ई-मित्र केन्द्र पर भामाशाह कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है और उसे इसके लिए जारी एनरोलमेंट नम्बर के जरिये किसान का ऑनलाईन पंजीयन हो जाएगा।

कम समय में ज्यादा किसानों को किया जाएगा लाभान्वित
प्रबंध निदेशक ने बताया कि भारत सरकार ने कम समय में ज्यादा से ज्यादा किसानों को समर्थन मूल्य पर खरीद का लाभ देने के लिए एक किसान से एक बार में 25 क्विंटल जिन्स खरीदने का निर्णय किया है।

यदि किसान के पास जिन्स की अधिक उपज है तो उसे बाकी उपज को समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए ऑटोमेटिक रूप से दूसरी तिथि दे दी जाएगी। उन्होंने बताया कि इस निर्णय से कम समय में अधिक किसानों को लाभान्वित किया जा सकेगा।

ये हैं कृषि जिन्सों के समर्थन मूल्य
डॉ. प्रधान ने बताया कि मूंग, उडद एवं सोयाबीन की अधिक पैदावार वाले क्षेत्रों की पहचान कर मूंग के लिए 87 केन्द्र, उड़द के लिए 29 तथा सोयाबीन के लिए 21 केन्द्र बनाए गए हैं। मूंगफली के लिए 32 केन्द्रों की पहचान कर ली गई है।

उन्होंने बताया कि भारत सरकार द्वारा मूंग के लिए 5575 रुपये, उड़द के लिए 5400 रुपये, सोयाबीन के लिए 3050 रुपये तथा मूंगफली के लिए 4250 रुपये प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य बोनस सहित निर्धारित किया है।

उन्होंने बताया कि किसानों को उनकी उपज का मूल्य उनके पंजीकृत बैंक खाता में ऑनलाईन ट्रांसफर किया जाएगा। इस व्यवस्था से किसानों को भुगतान के लिए खरीद केन्द्रों पर चक्कर नहीं लगाने पडेंगे।

यहां से करेंं समस्या का निराकरण
डॉ. प्रधान ने बताया कि राजफैड ने मुख्यालय पर कण्ट्रोल रूम स्थापित किया है। यदि किसी किसान को ऑनलाईन पंजीयन में किसी प्रकार की समस्या हो रही है तो उसके निराकरण के लिए दूरभाष संख्या 0141-2744910 पर श्रीसौरभ पाण्डे से एवं कृषि जिन्स खरीद संबंधी व्यवस्था के संबंध में दूरभाष संख्या 0141-2740108 पर श्री भूपाल सिंह, सहायक प्रबंधक से संपर्क किया जा सकता है।