उत्तर कोरिया-अमेरिका विवाद से शेयर बाजार में रहेगा उतार,चढ़ाव

0
24

पिछले सप्ताह अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच नया वाकयुद्ध छिड़ गया है, जिससे चलते निवेशक आशंकित हैं

नई दिल्ली। उत्तर और अमेरिका के बीच तनाव बढ़ने के बीच इस सप्ताह शेयर बाजारों में भारी उतार, चढ़ाव रह सकता है। इस तनाव की वजह से वैश्विक शेयर बाजार जोखिम उठाने के मूड में नहीं हैं। वायदा एवं विकल्प निपटान की वजह से भी यहां बाजार पर दबाव है।  विशेषज्ञों ने यह राय जताई है।   

पिछले सप्ताह अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच नया वाकयुद्ध छिड़ गया है, जिससे चलते निवेशक आशंकित हैं। एपिक रिसर्च के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुस्तफा नदीम ने कहा, उत्तर कोरिया हाइड्रोजन बम के साथ अगले स्तर के परीक्षण की धमकी दे रहा है जिससे वैश्विक स्तर पर तनाव बढ़ा है।

इसके अलावा कोई ऐसा संकेतक नहीं है जो उतार—चढ़ाव में कमी करने में सहायक होगा।  फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, हालिया समय में उभरते बाजारों में घरेलू बाजारों का प्रदर्शन सबसे बेहतर रहा है। मजबूत सुधार एजेंडा और स्थिर नीतियों से बाजार में तेजी आई है।

उन्होंने कहा, कंपनियों की आमदनी में बढ़ोत्तरी तथा वैश्विक बाजारों की स्थिति सामान्य होने पर यहां बाजार को समर्थन मिलेगा। बीते सप्ताह बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 350.17 अंक या 1.08 प्रतिशत नीचे आया। यह 11 अगस्त के बाद सेंसेक्स की सबसे बड़ी साप्ताहिक गिरावट है।

नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 121 अंक या 1.19 प्रतिशत टूट गया था। इस सप्ताह शेयर बाजार का भविष्य बहुत कुछ उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच उपजे तनाव पर निर्भर करेगा।