सोने का आयात 5 माह में तीन गुना बढ़कर 15 अरब डॉलर के पार

0
34

देश का चालू खाता घाटा (सीएडी) मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही की समाप्ति पर बढ़कर 14.3 अरब डॉलर हो गया जो सकल घरेलू उत्पादन (जीडीपी) का 2.4 फीसद था

नई दिल्ली । वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-अगस्त अवधि के दौरान देश में सोने का आयात तीन गुना बढ़कर 15.24 अरब डॉलर तक पहुंच गया। सोने का आयात, जो देश के चालू खाता घाटे (सीएडी) पर असर डालता है, वित्त वर्ष 2016-17 की अप्रैल से अगस्त की अवधि के दौरान 5.08 बिलियन डॉलर रहा था।

इस साल के अगस्त महीने में कीमती धातु (सोना) का आयात बढ़कर 1.88 अरब डॉलर हो गया जो कि बीते वर्ष की समान अवधि में 1.11 अरब डॉलर रहा था। पिछले महीने सोने के आयात में बढ़ोतरी ने व्यापार घाटा बढ़ाकर 11.64 अरब डॉलर कर दिया जो कि अगस्त 2016 में 7.7 अरब डॉलर का रहा था।

आगामी त्यौहारी मौसम को देखते हुए सोने के आयात में और वृद्धि की उम्मीद है। आपको बता दें कि त्यौहारी सीजन इस महीने के आखिर से शुरू हो रहा है। सोने की इनबाउंड शिपमेंट में बढ़ोतरी, चालू खाता घाटे (सीएडी) के बढ़ने के प्रमुख कारणों में से एक है।

देश का चालू खाता घाटा (सीएडी) मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही की समाप्ति पर बढ़कर 14.3 अरब डॉलर हो गया जो सकल घरेलू उत्पादन (जीडीपी) का 2.4 फीसद था। सीएडी में बढ़ोतरी मुख्य रूप से व्यापार घाटा बढ़ने के कारण हुई है।

पिछले वित्त वर्ष 2016-17 की पहली तिमाही अप्रैल-जून में सीएडी घटकर 40 करोड़ डॉलर रह गया था जो जीडीपी के मुकाबले सिर्फ 0.1 फीसद था। मार्च 2017 में समाप्त तिमाही में सीएडी 3.4 अरब डॉलर रहा जो जीडीपी का 0.6 फीसद था।